मेरा लंड और मामी की चूत, मजा आ गया

मेरी मामी जो लगभग ३२ साल की है और दो बच्चों की माँ है, रंग गोरा, शरीर भरा हुआ, न एकदम दुबला न एक दम मोटा-ताज़ा। मतलब बिल्कुल गज़ब की। पर चूचियाँ तो दो-दो किलो के और गाँड कुछ ज़्यादा ही बाहर निकले हैं। मेरे ख़्याल से उसकी फिगर ३८-३२-३९ होगी।

मैं उस मामी को चोदने के चक्कर में दो सालों से लगा था, और उसके नाम से मूठ मारा करता था। मेरे मामा (४०), जो ग्वालियर में ही रहते थे, रेडीमेड कपड़ों के धंधे में थे और अपना माल दिल्ली ख़ुद ही जाकर लेकर आते थे।

एक दिन जब मैं अपने घर पहुँचा तो मामा वहाँ थे, और मम्मी से बातें कर रहे थे। मैंने मामा से पूछा – “अब नये कपड़े कब आ रहे हैं?”

“बस आज ही लाने जा रहा हूँ। पर इस बार माल दिल्ली से नहीं, मुम्बई से लेकर आना है। वहाँ एक नामी कम्पनी से मेरी बात तय हो गई है। मुझे वहाँ से आने में चार-पाँच दिन तो लग ही जाएँगे। तब तक मैं चाहता हूँ कि तुम दिन में एक बार ज़रा दुकान जाकर काम देख लेना और रात में मेरे घर चले जाना।”

“तू एकता और बच्चों को यहीं क्यों नहीं छोड़ देता?” मेरी मम्मी ने पूछा।

“मैंने एकता से कहा था कि बच्चों के साथ दीदी के यहाँ रह लेना, पर वह कह रही थी कि चार-पाँच दिनों के लिए आप लोगों को क्यों परेशान करना, बस नन्द को बोल देना, वो तुम्हारे आने तक हमारे यहाँ ही आ जाए और दुकान को भी काम देख ले। नौकरों के भरोसे दुकान छोड़ना ठीक नहीं। तुझे कोई दिक्क़त तो नहीं?” – मामा बोले।

“अभी तो मैं पूरा खाली ही हूँ। परीक्षाएँ भी खत्म हो चुकी हैं। चलिए एक अनुभव के लिए आपकी दुकान को भी सँभाल लेते हैं (और मामी को भी)।”

“आज ८ बजे मेरी ट्रेन है, तू सात बजे घर आ जाना और मुझे स्टेशन छोड़ कर वापिस मेरे घर ही चले जाना।”

“ठीक है मैं ६:३० बजे आ जाऊँगा।”

६:३० बजे मैं मामा के घर पहुँच गया, मामा सफ़र की तैयारी कर रहे थे और मामी पैकिंग में मामा की मदद कर रही थी। पैकिंग के बाद मामी ने मामा को खाना दिया और मुझे भी खाने के लिए पूछा।

“मामा को छोड़कर आता हूँ, फिर खा लूँगा।” मैंने कहा।

७:३० बजे मामा और मैं स्टेशन पहुँच गए। मामा की ट्रेन सही समय पर आ गई, मामा का आरक्षण था, मामा अपनी सीट पर जाकर बैठ गए और पाँच मिनट के बाद ट्रेन मुम्बई के लिए चल पड़ी। चलते-चलते मामा बोले,”मामी और बच्चों का ख्याल रखना।”

“आप यहाँ की फिक्र ना करें, मैं मामी और बच्चों का पूरा ख्याल रखूँगा।”

मैंने स्टैण्ड से अपनी बाईक ली और ८:३० तक घर आ गया। मैंने दरवाज़े की कॉलबेल बजाई तो मामी ने दरवाज़ा खोला और बोली,”हाथ-मुँह धो लो, अब हम खाना खा लेते हैं।”

“आपने अभी तक काना नहीं खाया?” मैंने पूछा।

“बस तुम्हारा ही इन्तज़ार कर रही थी। बिट्टू और सोनू तो खाना खाकर सो गए हैं। तुम भी खाना खा लो।”

मैं और मामी डिनर की टेबल पर एक-दूसरे के आमने-सामने बैठ कर खाना खा रहे थे। जब मामी निवाला खाने के लिए थोड़ा झुकती उनकी चूचियों की गहराईयों के दर्शन होने लगते और मेरा लंड विचलित होने लगता। पर स्वयं को सँभाल कर मैंने खाना खतम किया और टीवी चालू कर लिया। उस समय आई पी एल मैच चल रहे थे, मैं मैच देखने लगा।

कुछ देर बाद मामी बर्तन साफ करने लगी और वह भी मैच देखने लगी। जल्दी ही उसे नींद आने लगी। “मैं तो सोने जा रही हूँ, तुम भी हमारे कमरे में ही सो जाना, तुम डबल बेड में बच्चों के एक तरफ ही सो जाना” मामी बोली।

“ठीक है, बस एक घन्टे में मैच खत्म होने वाला है। आप सो जाओ, मैं मैच देखकर आता हूँ।”

मामी चली गई और मैं मैच देखने लगा।

कुछ देर बाद बाद ब्रेक हुआ और मैं चैनल बदलने लगा, और एक लोकल चैनल पर रुक गया। डिश वाले एक ब्लू-फिल्म प्रसारित कर रहे थे। अब काहे का मैच, मैं तो उसी चैनल पर रुक गया और वो ब्लू-फिल्म देखने लगा और मेरा लंड हिचकोले मारने लगा।

मेरा साढ़े पाँच इंच का लंड लोहे की तरह सख्त होकर तन गया, मैं अपनी पैंट के ऊपर से ही उसे सहलाने लगा। मेरा लंड चूत के लिए फड़फड़ाने लगा और मेरी आँखों के सामने मामी का नंगा बदन घूमने लगा और मैं मामी के नाम से मूठ मारने लगा। मैं मन ही मन मामी को चोद रहा था, कुछ देर बाद लंड ने एक पिचकारी छोड़ दी। मेरा वीर्य लगभग पाँच फीट दूर छिटका, और यह बस मामी के नाम का कमाल था।

अब मेरा दिमाग मामी को हर हाल में चोदने के बारे में सोचने लगा, तब तक फिल्म भी खत्म हो गई थी। मैंने टीवी बन्द किया और बेडरूम की ओर चल दिया। जैसे ही मैंने कमरे की बत्ती जलाई, मेरी आँखें फटी रह गईं। बिल्लू और सोनू, दोनों दीवार की ओर सो रहे थे, और मामी बीच बिस्तर में। उनकी साड़ी घुटनों के ऊपर तक उठ गई थी और उनकी गोरी-गोरी जाँघें दिख रहीं थीं। उनका पल्लू बिखरा हुआ था, ब्लाउज़ के ऊपर के दो हुक खुले थे और काली ब्रा साफ-साफ दिख रही थी। मामी एकदम बेसुध सो रहीं थीं।

मैंने तुरन्त लाईट बन्द की और अपने लंड को सहलाते हुए सोचा,’क़िस्मत ने साथ दिया तो समझ हो गया तुम्हारा जुगाड़ !’

मैं जाकर मामी के पास लेट गया, मामी एकदम गहरी नींद में थी। मैंने एक हाथ मामी के गले पर रख दिया और हाथ को नीचे खिसकाने लगा। अब मेरा हाथ ब्लाउज़ के हुक तक पहुँच गया। मैं आहिस्ते-आहिस्ते हुक खोलने लगा। तभी मामी बच्चों की ओर पलट गई, इससे मुझे हुक खोलने में और भी आसानी हो गई और मैंने सारे हुक खोल दिए। ब्रा के ऊपर से ही मामी की चूचियों को सहलाने लगा।

मामी के स्तन एकदम मुलायम थे। पर ब्रा ने उन्हें ज़ोरों से दबा रखा था, इस कारण ऊपर पकड़ नहीं बन रही थी। मैं अपना हाथ मामी की ब्लाउज़ के पीछे ले गया और ब्रा के हुक को भी खोल दिया। अब दोनों स्तन एकदम स्वतंत्र थे। मैं उन आज़ाद हो चुके बड़े-बड़े स्तनों को हल्के-हल्के सहलाने लगा, फिर मैं एक हाथ उनकी जाँघ पर ले गया और ऊपर की ओर ले जाने लगा पर एक डर सा भी लग रहा था कि कहीं मामी जाग ना जाए। पर जिसके लंड में आग लगी हो वो हर रिस्क के लिए तैयार रहता है और लंड की आग को सिर्फ चूत का पानी ही बुझा सकता है।

हिम्मत करके मैं अपने हाथ को ऊपर ले जाने लगा। जैसे-जैसे मेरा हाथ चूत के पास जा रहा था, मेरा लंड और तेज़ हिचकोले मार रहा था।

अब मेरा हाथ मामी की पैन्टी तक जा पहुँचा था। पैन्टी के ऊपर से ही मैंने हाथ चूत के ऊपर रख दिया। चूत बहुत गीली थी और भट्टी की तरह तप रही थी। मैंने साड़ी को ऊपर कर दिया और पैन्टी को नीचे खिसकाने लगा। थोड़ी मेहनत के बाद मैं पैन्टी को टाँगों से अलग करने में कामयाब रहा।

अब मैं हाथ को चूत के ऊपर ले गया और चूत को प्यार से सहलाने लगा। मामी अभी तक शायद गहरी नींद में थी। मैंने एक हाथ मामी की कमर पर रखा और उन्हें सीधा करने लगा।

मामी एक ही झटके से सीधी हो गई। मैं अपनी टाँग को मामी की टाँगों के बीच ले गया और मामी की टाँगों को फैला दिया। अब मैं नीचे खिसकने लगा और मैं जैसे ही चूत चाटने के लिए मुँह चूत के पास ले गया, मामी ने हाथ से चूत को ढँक लिया।

मेरी तो गाँड फट गई, रॉड की तरह तना हुआ लौड़ा एकदम मुरझा गया, दिल धाड़-धाड़ धड़कने लगला।

तभी मामी उठी और फुसफुसाकर बोली,”ये सब यहाँ नहीं। बिट्टू और सोनू जाग सकते हैं। अब तक तो मैंने किसी तरह अपनी सिसकियाँ रोक रखीं थीं पर अब नहीं रोक सकूँगी। हम ड्राईंगरूम में चलते हैं।”

इतना सुनते ही मेरा लंड फिर से क़ुतुबमीनार बन गया। मामी जैसे ही बिस्तर पर से उठी, मैंने मामी को अपनी बाँहों में भर लिया और उनके होंठों को चूमने लगा। वह भी मेरे होंठों पर टूट पड़ी। हम एक-दूसरे के होंठों को पागलों की तरह निचोड़ने लगे।

मैं उनके होंठों को चूमते हुए अपने दोनों हाथ उनकी गांड तक ले गया और उन्हें उठा लिया। मामी ने अपने पैर मेरी कमर के गिर्द लपेट दिए। मैं उन्हें चूमते हुए ड्राईंगरूम तक ले आया और मामी को लेकर सोफे पर बैठ गया।

मामी मेरी गोद में थी, ब्लाउज़ और ब्रा अभी भी मामी के कंधों से लटक रहे थे। पहले मैंने ब्लाउज़ को निकाल फेंका, फिर ब्रा और एक चूची को हाथ से मसलने लगा और साथ ही दूसरी चूची को चाटने लगा।

अब साड़ी की बारी थी, मैंने साड़ी भी निकाल फेंकी, अब पेटीकोट बेचारे का भी शरीर पर क्या काम था। अब मामी एकदम नंगी हो चुकी थी। लाल नाईट-बल्ब की रोशनी में मामी का नंगा बदन पूर्णिमा में ताज़ की तरह चमक रहा था और इस वक्त मैं इस ताजमहल का मालिक था।

अब मामी मेरे कपड़े उतारने लगी। मेरे सारे कपड़े उन्होंने उतार दिए और मैं सिर्फ अपनी फ्रेंची अण्डरवियर में रह गया पर वह भी अधिक देर न रह सका। उन्होंने वह भी एक ही झटके में उतार फेंकी और फिर मामी ने मेरे साढ़े पाँच इंच लम्बे विकराल लंड को लॉलीपॉप की तरह चूसने लगी।

कभी मामी लंड पर, तो कभी अंडकोष से सुपाड़े तक जीभ फिराती, कभी लंड को हल्के से काटती, सुपाड़े पर थूकती और फिर उसे चाट जाती। मेरा तो बुरा हाल कर दिया और मेरे लंड ने मामी के मुँह पर अपनी पिचकारी मार दी। उनका पूरा चेहरा मेरे वीर्य से सन गया था। मैंने अपने दोनों हाथों से सारा वीर्य उनके चेहरे पर मल दिया।

“दूसरी बार में भी इतना माल? तेरा लंड है या वीर्य का टैंक?” – मामी ने कहा।

मैं यह सुनकर हैरान हो गया, मेरी हैरानी जानकर उन्होंने बताया – “जब तू ब्लू-फिल्म देख रहा था और मेरे नाम से मूठ मार रहा था तब मैं पानी पीने के लिए रसोईघर में आई थी और तेरे लंड की धार को देख कर मेरी कामवासना की प्यास जाग गई और मैं बेडरूम में अपने कपड़ों को जान-बूझ कर अस्त-व्यस्त कर लेट गई थी। वहाँ आने के बाद अगर तू ऐसी हरकतें नहीं करता तो आज मैं ही तेरा बलात्कार कर देती।”

“तरबूज़ तलवार पर गिरे या तलवार तरबूज़ पर, कटना तरबूज़ को ही है। अब तो आज रात सचमुच में बलात्कार होगा। आज रात अगर आपसे रहम की भीख न मँगवाई तो मेरा भी नाम नन्द नहीं।” मैंने कहा।

“चल देखते हैं, कौन रहम की भीख माँगता है !” मामी ने भी ताना सा मारा।

मामी के ऐसा कहते ही मैंने मामी को ज़मीन पर लिटा दिया और उनकी चूत पर टूट पड़ा, अपनी जीभ को चूत में जितना हो सकता था अन्दर डाल दिया और जीभ हिलाने लगा। चूत के गुलाबी दाने को जैसे ही मैं हल्के-हल्के काटता-चूसता, वह तड़प उठती और आआहहहहहह आआहह्ह्हहहह करने लगती।

उसने टाँगों से मेरे सिर को जकड़ लिया और टाँगों से ही सिर को चूत में दबाने लगी और बालों में हाथ फेरने लगी। मैं चूत-अमृत पीते हुए दोनों स्तनों को मसल रहा था… तभी अचानक मामी का शरीर अकड़ने लगा उनकी चूत ज़ोरदार तरीके से झड़ने लगी।

मैंने चूत को चाटकर साफ कर दिया और जैसे ही मैं मामी के ऊपर आने को हुआ, मामी ने मुझे रोका और गेस्ट-रूम की ओर इशारा किया। मैं समझ गया कि वह उस कमरे में चलने को कह रही है। मैंने उन्हें गोद में लिया और चूमते हुए उस कमरे में ले आया। लाईट जलाई तो देखा, वहाँ एक सिंगल बेड था। मैंने पंखा चालू किया और उन्हें बिस्तर पर पटक दिया और उनके ऊपर आ गया। मैंने उनके होंठों को चूमते हुए अपनी टाँगों से उनकी टाँगे चौड़ी कीं।

अब मेरा लंड मामी की चूत के ऊपर था। मैंने अपने हाथों को सीधा किया और धक्के मारने की मुद्रा में आ गया। अब मैं अपनी कमर को नीचे करता और लंड को चूत से स्पर्श करते ही ऊपर कर लेता। कुछ देर ऐसा करने के बाद मामी बोली,”अब मत तड़पाओ, मेरी चूत में आग लग रही है, इसमें अपना लंड अब डाल दो और मेरी चूत की आग को शान्त करो, मैं तुम्हारे हाथ जोड़ती हूँ।

इस बार मैंने लण्ड चूत पर रखा और धीरे-धीरे नीचे होने लगा और लण्ड चूत की गहराईयों में समाने लगा। चूत बिल्कुल गीली थी, एक ही बार में लण्ड जड़ तक चूत में समा गया और हमारी झाँटे आपस में मिल गईं। अब मेरे झटके शुरु हो गए और मामी की सिसकियाँ भी… मामी आआआहहहहह अअआआआआहहहह करने लगी। कमरा उनकी सिसकियों से गूँज रहा था।

जब मेरा लण्ड उनकी चूत में जाता तो फच्च-फच्च और फक्क-फक्क की आवाज़ होती। मेरा लण्ड पूरा निकलता और एक ही झटके मे चूत में पूरा समा जाता। मामी भी गाँड हिला-हिला कर मेरा पूरा साथ दे रही थी। मैंने झटकों की रफ्तार बढ़ा दी, अब तो खाट भी चरमराने लगी थी। पर मेरी गति बढ़ती जा रही थी। हम दोनों पसीने से नहा रहे थे। पंखे के चलने का कोई भी प्रभाव नहीं था।

दोनों के चेहरे एकदम लाल हो रहे थे पर हम रुकने का नाम नहीं ले रहे थे। झटके अनवरत जारी थे। कभी मैं मामी के ऊपर तो कभी मामी मेरे ऊपर आ जाती। दोनों ही चुदाई का भरपूर मज़ा ले रहे थे। पूरे कमरे में बस कामदेव का राज था। हम दोनों एक-दूसरे की आग को बुझा रहे थे। तभी हमारे शरीर अकड़ने लगे।

दोनों झड़ने वाले थे। मैं लण्ड को बाहर निकालने वाला ही था कि मामी ने रोक दिया और बोली – “अपना सारा माल चूत के अन्दर ही छोड़ दो।”

मैंने भी झटके चालू रखे। हम दोनों ने एक-दूसरे को भींच लिया। मामी ने टाँगों और हाथों को मेरे शरीर पर लपेट दिया। मैंने मामी के कंधों को कसकर पकड़ लिया और एक ज़ोरदार झटका मारा। मैं और मामी एक ही साथ झड़े थे। मामी की चूत मेरे वीर्य से भर गई।

वीर्य चूत से बह रहा था। मेरा मुँह अपने-आप चूत पर पहुँच गया और मैं मामी की चूत को चाट-चाट कर साफ करने लगा।

मामी ने भी मेरे लंड को चूस-चूस कर साफ कर दिया और हम दोनों एक-दूसरे के बगल में लेट गए, पर मामी का हाथ मेरे लंड पर था और मैं मामी के बालों को सहला रहा था।

मामा के आने तक मैं और मामी पति-पत्नी की तरह रहे। मैं सुबह को दुकान का एक चक्कर लगा आता। दिन में हम नींद ले लेते और रात को…

मामा के आने के बाद भी जब भी मौक़ा मिलता, मैं उसको छोड़ता नहीं।

This entry was posted in Cheating and tagged , , , , , , . Bookmark the permalink.

52 Responses to मेरा लंड और मामी की चूत, मजा आ गया

  1. roney roy says:

    Kisko pyar ki ya romance ki jarur ho plz call me baby 8866361543

  2. roney roy says:

    Kisko pyar ki ya romanc ki jarurat ho to call kare

    8866361543

  3. roney roy says:

    Kisko pyar ki ya romanc ki jarurat ho to call kare

  4. Ssss says:

    sarita mera nam kisiko kam vasna ke bare me kuch jankari jarurat ho to kontekt kare. 9424290824

  5. sanjay says:

    Koi bhe chit cudwana chat I ho to contact me 09728879879

  6. I.am rahul from delhi sex with me only girls.women my nomver.09654001826

  7. Rahul verma says:

    Hi I am Rahul age 29 from Delhi,. Any female who like dirty sex talk or fucking with secure call me or sms me on 09899901494. Majay lo jindgi key.

  8. sunil says:

    college girl ya bhabhi chudawan chhati to muze cal kare I m living in mumbaii any time cal mi ful maza my cel no 9004553821

  9. Rahul verma says:

    hi I am rahul from delhi age 31.Any female having place and want to dirty sex chat or fucking call me or sms me at 9899901494. all are must be secreat. don’t worry.

  10. ajay says:

    Hello dosto mai ajay .mai pithampur [dhar}rahta hu meri age 16 sal ka ho mere ghar ke pas ek muslim ladki rahti hai . Uska nam nuren hai uski age 15 sal ki hai.2saal pehale ki bat hai jab mai 10th padhata tha vah us samay se mujhe pyar karti thi.but mai use pyar nahi karata.but aaj kal mujhe uske bare mia sochata rata hu. Ek din ki bat hai jab mere ghar par akela mai tha tabhi wo pani bharne ke liye aai.wo mere room me aai aur mere pas akar baith gayi .boli tum mujhase sex karna chahoge? Tabhi maine man me socha ki esase acha moka nahi milega.aur maine ha kahi .tabhi usne mujhe apni baho se pakad liya aur mujhe chumne lagi .maine apna ek hatha se dhire dhire uske bobe dabane laga.wah kya maje aa rahe hai jaise koi makkhan ho.aur phir maine uski sarval kurti utari.usene mere kapade utare .ab keval ham dono chadi baniyan me the.andrwair me mera luand tan raha tha.iske bad dekh ki nuren ke ke bobe bade bade aam ki tarh ho rahe maine uski andrwair bra ko utar diya nuren ab mere samne ek dam naggi hai uski chut

  11. GULC GOEL says:

    agar koi bhabhi ya larki ncr delhi mai mere sath sex karna chahanti hai to call me on 087552559251

  12. surya says:

    कोई भी भाभी या आँटी मूझसे चूदाना चाहे तो फोन करे चूत का प्यासा चूदाई का दिवाना लन्ड 9028541535 email id – suryayadhav55@gmail.com

  13. Anand says:

    I like this story.
    Any Girl / Women (25-45 yrs) near Vadodara interested in straight & safe sex may write on anandyou@gmail.com

  14. honey says:

    “escourt of boys”. girls full of desire always welcome…..

  15. अब्दुल fazalabdullah@ymail says:

    कोई भी भाभी या आँटी मूझसे चूदाना चाहे तो फोन करे चूत का प्यासा चूदाई का दिवाना लन्ड 7607373986

  16. irsadalam says:

    फररी चुदवाये कनटेकट सिकरेट रखुगा कोइ एक की चाहत है मेल करे irsadalam0@gmail.com 8000047905 plig call

  17. mohsin says:

    hi girls mera naam mohsin hai maine aaj tak kisi bhi ladki ki chut nahi mari hai mera land 7 inch lamba aur 2inch mota hai agar koi ladki mere sath raat guzarna chahati hai call me 9958513636 mai koi bhi fees nahi lunga aur uska sath bhi dunga i love you

  18. vishal says:

    mane apni nokrane ko chuda wo bhut sundar thi wo 2 sall se hamar pass rahati thi 1din maa mosi ki sagai me gai thi to nokrani

  19. Vishnu sainy says:

    mujhe ye kahani bhut achhi lagi.
    aur mai bhi chudai karna chahta hun..
    agar koi chut free ho to mujhe bataye ya mail kare..

  20. DEV says:

    hi girls, i m dev. M aapki seva me 24hrs uplbdh hu. Agar koi ladki apne pti se khush nhi h to contact to me. 100% satisfication guarnteed. Mail me if anyone want to spend a night with me. I am thinking sex is a natural need of everyone. SO I WILL CHARGE NO FEES TO ANY GIRL. But she should be beautiful.my email add-ydinesh970@gmail.com.

  21. ashu says:

    nice chodte raho aurat to cudane ke liye hi bani hai.

  22. shaan says:

    jo ladki .aurat.widow ya aunty apni pyas nai bujha pati wo mere se apni pyas bujjhay naam secret rahegapakka wada. 6 inch ka lund h 2 inch wide mera no 9807711531 hai…

  23. neeraj says:

    bahan ke lodey randi ke pas ja tujhe teri aukat pata chal jayegi

  24. MANISH ESCORTS says:

    Girls job, kamaiye upto 70,000rs/month, manish escorts delhi, Call manish +91-8527182804

  25. om says:

    sabhi umar ki ladkiyan 8-60 tak chudvane chatwane ke liye call karen

    9887208644

  26. alam says:

    20 se 30 saal tak ki ladyagar apne pati ke land se santusht nahi hai ya talakshuda ya widow hai aur chudwane ka bharpur maza lena chahti hai , (khubsurat honi chahiye) to mujhse sampark kare. Puri raat chodkar santusht karne ki gaurnty hai. Naam, Add. gupt rakha jayega. sirf januan lady hi sampark kare. ek raat chodne ke baad dobara chod sakte hai lekin chut, balls, nipple pasand aane chahiye otherwise ek raar ke baad bye-bye.

    9334032000

  27. deepak says:

    IS LAND CHUT KI KAHANIYAN MUJHE BAHUT ACHHI LAGATI HAIN PLEASE KUCHH MERE E MAIL PER BHI DAL DIYA KARAI

  28. love says:

    JO PATI ke LAND SE…………………………..

    20 se 30 saal tak ki ladyagar apne pati ke land se santusht nahi hai ya talakshuda ya widow hai aur chudwane ka bharpur maza lena chahti hai , (khubsurat honi chahiye) to mujhse sampark kare. Puri raat chodkar santusht karne ki gaurnty hai. Naam, Add. gupt rakha jayega. sirf januan lady hi sampark kare. ek raat chodne ke baad dobara chod sakte hai lekin chut, balls, nipple pasand aane chahiye otherwise ek raar ke baad bye-bye.

    ek puri raat ki fees Rs.5000 (Love)

    lovesugar16@gmail.com

  29. love says:

    CHODKAR SANTUSHT KARNE KI GAURNTY (Love)

    20 se 30 saal tak ki ladyagar apne pati ke land se santusht nahi hai ya talakshuda ya widow hai aur chudwane ka bharpur maza lena chahti hai , (khubsurat honi chahiye) to mujhse sampark kare. Puri raat chodkar santusht karne ki gaurnty hai. Naam, Add. gupt rakha jayega. sirf januan lady hi sampark kare. ek raat chodne ke baad dobara chod sakte hai lekin chut, balls, nipple pasand aane chahiye otherwise ek raar ke baad bye-bye.

    ek puri raat ki fees Rs.5000

    lovesugar16@gmail.com

  30. love says:

    20 se 30 saal tak ki ladyagar apne pati ke land se santusht nahi hai ya talakshuda ya widow hai aur chudwane ka bharpur maza lena chahti hai , (khubsurat honi chahiye) to mujhse sampark kare. Puri raat chodkar santusht karne ki gaurnty hai. Naam, Add. gupt rakha jayega. sirf januan lady hi sampark kare. ek raat chodne ke baad dobara chod sakte hai lekin chut, balls, nipple pasand aane chahiye otherwise ek raar ke baad bye-bye.

    ek puri raat ki fees Rs.5000

  31. Love says:

    Please isko hindi me post kare taki mere anubhav ka jyada se jyada log fayda utha sake.
    ……………….Meri saath kya aur kaise hua……… meri maami ki jab shadi hue vo 22 saal ki thi aur mera maama 40

    saal ka ……mere maama us hasin maami ko pahli raat (suhagraat) ko bhi santusht nahi kar sake. aur

    maami ne subah hote hi kah diya main aapke saath nahi rahungi. Phir……….maami ne ek plan banaya

    aur apne prem jaal me mithi-2 baato se mujhe faans liya. hua ye ki us samay meri umar lagbhag 20-21

    saal thi aur main thik se sex sabd ko janta bhi nahi tha. chunki mera ghar unke bilkul sata hua tha

    isliye jaldi hi meri bolchal unse suru ho gayi, ek din moka dekh kar maami ne mujhe pakad liya

    kyonki ghar me koi aur nahi tha aur dhire-2 mere land ko hilana suru kar diya. pahle-2 to mujhe

    maami se nafrat huyi lekin dhire-2 mujhe bhi maja aane laga. vo mere land ko sahlati rahti aur mera

    ek haath apni chut me dal diya aur mujhe kaha anguliya chalate raho. ye rutin kayi dino tak chala vo

    mere land ko kabhi jeebh se chatne lagi aur mera ek haath uski chut me ek haath uske nitambo me.

    sayongvansh aisa hua ki maama ka transfer ho gaya, maama 2-3 din bahar rahte ab meri maami raat

    ko akeli rahne lagi thi. ek raat sabhi gharwale shadi me gaye hue the main akela tha maami ko is baat

    ka pata tha, raat ko karib 1 baje maami ne bell bajayi maine darwaja khol diya maami ne kaha nind

    nahi aa rahi dar lag raha hai, ya to tu mere ghar aa ja ya main yanha soti hun. maami ne ek jhatke me

    gaun utar diya aur mere kapde bhi kholne lagi, us din maine pahli baar ek aurat ko aise dekha tha,

    maine maami ko bahut samjhaya ki hum ab tak jo kar rahe the vo bhi galat tha lekin aaj jo aap kar rahi

    ho vo maim karne nahi dunga. itna kahte hi maami blackmailing par utar aayi aur kaha main tere

    maama ko kah dungi ki raat ko yeh ghar me ghus aaya kyonki vo to itne dino se mauke ki talash me

    thi. ……………….usne mere sare kapde utar diye jab maine uski bra kholi to uske gol-2 chunchiyo ko

    main dekhta rah gaya us din mujhe ahsash hua ki iski galti nahi hai yeh apni pyas bhujane kanha jaye.

    mujhe us se hamdardi ho gayi aur maja bhi aane laga tha us raar maine lagbhah 5 baje tak usko

    choda ab to yeh rutin ban gaya usne ek tarika nikala maama ko kaha mujhe raat me dar lagta hai aur

    maama ne mere ko maami ke ghar sone ke liye kah diya. 20-22 saal me jawani apni charm seema

    par hoti hai, maami daily mujhe chodne lagi kabhi mera land chat ti ab mujhe bhi maja aane laga tha.

    ………….. hamara yeh silsila lagatar jari hai, ab to vo mere land ke bina santust hi nahi hoti jab bhi moka

    milta hai mujhe phone kar ke bula leti hai. dosto kya bataun land aur chut ka rista bahut pakka hota

    hai.ab halaat ye hai ki uski chut me land diye bina land mayush rahta hai.uski chut ko bhi santushti

    nahi milti.uski chhatia model jaisi hai jab us par land pherta hun mera land khush ho jaata hai.kai bar

    asa bhi hota hai ki uska pani nikal jata hai lekin mera nahi tab vo mere land ko munh me lekar chat ti

    hai jhatke lagati hai, jab pani uske gale me chala jata hai tab vo santusht ho jati hai. ab uske ek londia

    ho gayi hai lekin uski chut abhi bhi tite hai, land ko chodne me maza vasa hi aata hai. ek din uski

    chhoti bahan jo ki ab 20 saal ki hai uske ghar rahne ke liye aayi lekin maami to mere land ke bina rah

    nahi sakti , ek raat maama ghar nahi tha vo mere ko chod rahi thi kyonki vo mere upar thi main uski

    choonchia dabaye ja raha tha itne uski bahan jagkar aa gayi aur hamare ko us halat me dekh liya ab

    kya tha maami ne usko pataya ki tere jija ka land khada nahi hota hai, vo budha hai aakhir main kya

    karti usne bhi maami ki han me han milayi maami ne mujhe kaha main is kamre se bahar chali jaungi

    usko bhej dungi tu use bhi chod kar pura maza dena nahi to ye tere maama ko bol sakti hai, usne asa

    hi kiya main bhi kanha phiche rahne wala tha, dhire dhire uski choonchio ko sahlaya jab use maza

    aane laga tab usne mera land pakad liya aur meri shirt ke batab kholne lagi maine bhi ek anguli uski

    chut me daali dhire dhire usko bilkul nanga kar diya ab mera land uski chut ke andar tha vo chillayi

    dard ke mare, meri maami aayi aur kaha bich me mat chhodna puri tarah chodna, puri raat maine

    usko jee bhar ke choda usne bhi pura maza liya. ab to aksar vo apni bahan ke ghar aati rahati hai aur

    chudai ka ye kabhi khatam na hone wala silsila dono ke saath chalta rahta hai. ……………..kafi kuchh

    baki rah gaya hai. …………uski figar kya hai …………chut me mera land kitni der rahta hai………………uski

    chut ki size kya hai. …………………………..bra ki size kya hai. …………………..jab maine uski ek aur bahan v

    uski bhabhi ko choda vo agli baar likhunga.

  32. RANJEET says:

    IS LAND CHUT KI KAHANIYAN MUJHE BAHUT ACHHI LAGATI HAIN PLEASE KUCHH MERE E MAIL PER BHI DAL DIYA KARAIN

  33. sonu says:

    girl & anti chtwane chudwane ke liye phone ya mail kre ham wada karte hai ki ham nirash nhi krege mob-09548602539
    sonu81.jatt@yahoo.in

  34. depak kumar says:

    girl & anti chtwane chudwane ke liye phone ya mail kre ham wada karte hai ki ham nirash nhi krege mob-09828791302
    dinh0283@yahoo.in

  35. deepak says:

    girl & anti chtwane chudwane ke liye phone ya mail kre ham wada karte hai ki ham nirash nhi krege mob-9968595179 email -dkumar932@gmail.com

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s